• Braking

    WELCOME TO MY BLOG SUBSCRIBE MY Blog???? "Sucnaformula" AND SEE SOMETHING NEW post =+Available

    Loading...

    Our website can be beneficial for you

    Search This Blog

    Translate

    Friday, February 14, 2020

    bavasir ka ilaj hindi mai [full course]

    bavasir ka ilaj hindi mai [full course]

     बवासीर दो प्रकार की होती है अंदर की और बाहर की अंदर की बवासीर में मस्से अंदर को होते हैं गोल चपटे उभारे हुए मस्से चने मसूर के दाने के बराबर भी होते हैं कब्ज की वजह से जब अंदर का मस्सा लैट्रिन करते समय जोर लगाने पर बाहर आ जाता है तो मरीज दर्द से तड़प उठता है और मस्से छिल जाए तो जख्म हो जाता है बाहर की बवासीर में मस्सा गुदा वाली जगह पर होता है इसमें इतना दर्द नहीं होता कभी-कभी मीठी खारिश में खुजली होती है कब्ज होने पर इससे इतना खून आने लगता है की मरीज खून देखकर घबरा जाता है और चेहरा पीला पड़ जाता है




    bavasir ka ilaj hindi mai [full course]
    FORMULA NEWS



     bavasir ki nisani hindi mai

     बवासीर से मरीज का हाजमा खराब हो जाता है भूख नहीं लगती कब्जी रहने लगती है पेट में कभी-कभी गैस बनने लगती है मैदा दिल जिगर कमजोर हो जाता है आमतौर से जिस्मानी कमजोरी हो जाती है मरीजों के मुंह पर हल्की सूजन भी आ जाती है




    bavasir ka ilaj hindi mai 

     50 ग्राम रीठे लेकर तवे पर रखकर कटोरी से ढक दें और तवे के नीचे एक घंटा  जलाएं रीठा भस्म हो जाएंगे ठंडा होने पर कटोरी हटाकर राख बारीक करके रीठे की भसम 20 ग्राम सफेद कत्था 20 ग्राम कुश्ता फौलाद 3 ग्राम सबको बारीक करके मिला ले खुराक का वजन 1 ग्राम सुबह को 1 ग्राम शाम को 20 ग्राम मक्खन में मिलाकर खाएं ऊपर से 250 ग्राम गर्म दूध पी लिया करें 10 15 दिन खाएं यह बहुत बढ़िया दवा है खूनी बादी बवासीर को दूर करेगी 
    परहेज गुड, गोश्त ,शराब ,आम, अंगूर, ना खाएं और कब जी को ना होने दें




    bavasir ka ilaj hindi mai [full course]
    FORMULA NEWS



    marham bavasir ke ilaj hindi mai

     सफेद वैसलीन 50 ग्राम कपूर 6 ग्राम सल्फा डायजिन की तीन गोली बोरिक एसिड 6 ग्राम सबको बारीक करके वैसलीन में मिलाकर रात को सोते समय सुबह लेट्रिन जाने से पहले दिन में एक बार रोजाना उंगली के साथ अंदर-बाहर मस्सों पर लगाएं

     khonee bavasir ke ilaj hindi mai

     गेंदे के हरे पत्ते 10 ग्राम काली मिर्च पांच दाने कुंजा मिश्री 10 ग्राम 60 ग्राम पानी से रगड़ कर छानकर 4 दिन तक एक एक बार पिलाएं गर्म चीज ना खाएं और कब्ज ना होने दें

    1. मोटी इलायची 50 ग्राम तवे पर डालकर ढक दें और नीचे आधा घंटे आग जलाकर भस्म कर ले तथा ठंडा होने पर बारीक करके 3 ग्राम सुबह-शाम ताजे पानी से 15 दिन खाएं

    2. हरसिंगार के फूल 3 ग्राम काली मिर्च 1 ग्राम पीपल 1 ग्राम जलेबी काशीरा 50 ग्राम सबको बारीक करके मिलाकर रात को सोते समय पांच-छह दिन तक खाएं खुराक दही खिचड़ी दूध में डबल रोटी खाएं कब्ज हो तो दूर कर ले खूनी बवासीर का बढ़िया इलाज है


    3.  स्टेप टू बी ऑन अंग्रेजी गोलियां जोकि बवासीर के खून को रोक लेती हैं बाजार से खरीद कर दो गोली सुबह शाम ताजा पानी से लें नुस्खा बवासीर गवार के 11 हरे पत्ते 11 काली मिर्च रोजाना सुबह 60 ग्राम पानी से रगड़ कर 11 दिन पीने से बादी बवासीर ठीक हो जाती है नुक्सा कई बार आजमाया हुआ है गवार को खुत्ति भी कहते हैं

    No comments:

    Post a Comment

    Popular Posts

    Ads section

    Labels

    animals (2) BEAUTY (1) Facebook (1) Food (1) GADGET (1) ideas businees (1) insurance (2) Life (1) LIFE STALE (10) Loans (1) MOBILE GADGET (2) Music (1) NEWS (7) Play quiz (1) Seo (3) shayari (1) STORIES (4) Technology (5) Whatsapp (1) Youtube (3)

    About Me

    My photo
    مرکزی طالب علم ایک کالج کا