• Braking

    WELCOME TO MY BLOG SUBSCRIBE MY Blog???? "Sucnaformula" AND SEE SOMETHING NEW post =+Available

    Loading...

    Our website can be beneficial for you

    Search This Blog

    Translate

    Monday, November 18, 2019

    Kirshi ke nai takneek hindi mai [pribhasa]

    कृषि में आधुनिक तकनीक कृषि की नई तकनीक आधुनिक कृषि की परिभाषा


    आपने अपने गाँव में, क़स्बे मैं,  अपने घर औऱ पड़ोस वालों खेतों पर जाते देखा होगा। किया आप जानते है । कि वे लोग खेतों में किया करते है। किया कभी आप अपने माता पिता या भाई के साथ खेत पर काम करने जैसे फसल बोने, काटने या अनाज लाने जाते हैं। यह आपके घर पड़ोस वालों का वयवसाय है। जिसे हम kirshi कहते है।kirshi हमारे देश का सबसे पुराना ओर महत्तपूर्ण वयवसाय है।. यह हमारे देश के आर्थिक विकास में बहुत महत्वपूर्ण हैं।


    फसले वे पौधे हैं जिन्हें मनुस्य ने अपनी उपयोगिता के लिए चुना है।पशुपालन के अंतर्गत वे पशु और पक्षी आते है जो मनुष्य अपने उपयोग के लिए पालता है। वानिकी और मत्स्यपालन को भी kirshi के अंतर्गत रखा जाता है।

    आधुनिक कृषि के तरीके

    सोचिये और बताइये 

    सबसे पहले लोगों ने खेती करना क्यो प्रारंभ किया होगा। पुराने समय से लेकर अब तक खेती करने के  तरीकों में बहुत अंतर आया है । इसे जानने के लिए आप अपने घर या गांव के बड़े बुज़ुर्गों से पूछिये की उनके खेती करने का किया तरीका था । अब आपके के गांव के लोग खेती कैसे करते है। लिखिये ।कृषि के क्षेत्र में तकनीकी परिवर्तन
     पहले गांव में खेती जोतने के लिए बैल का प्रयोग करते थे और अब ट्रैक्टर का प्रयोग करते है।ट्रैक्टर kirshi का आधुनिक उपकरण है ।
    आधुनिक kirshe web




    आपके गांव में लोग खेती करते है। इससे उनकी कोन कोन सी आवश्यकता पूरी होती हैं। ऐसी खेती या पैदावार जिससे रोज़ कि अपनी जरूरत पूरी हो जाती हैं। उसे निर्वाह kirshi  कहते है ।कृषि के प्रकार
     पता कीजिए आपके गांव में या कस्बे मे कोन कोन सी फसले बाजार में बेचने के लिए पैदा करते हैं ।

    हमारा भारत एक kirshi परधान देश है । पारम्परिक कृषि
     हमारे देश में लगभग 70% लोग kirsh पर निर्भर है। देश की कुल राष्ट्रीय आय लगभग 29% kirshi से प्राप्त होता हैं।भारत में कृषि विकास
     विभिन्न प्रकार की जलवायु तथा विविध मिट्टियो के कारण देश में लगभग सभी प्रकार की फसले उगाई जाती है। 
    पारंपरिक तथा आधुनिक कृषि प्रौद्योगिकी का तुलनात्मक चार्ट


    देश में पैदा होने वाली फसलों को तीन वर्गों में रखा जाता हैं।


    पारंपरिक तथा आधुनिक कृषि प्रौद्योगिकी का तुलनात्मक चार्ट बनाओ




    खगघन फसले - गेंहू , चावल, जो, चना , मटर, ज्वार , बाजरा आदि 

    नकदी फसले - गन्ना , कपास , जुट , तिलहन , तम्बाकू, आदि

    पेय एवं बागानी फसले - 💐  चाय, कहवा , रबड़ , गर्म मसाले , आदि

    अपने गांव अथवा कस्बे में पैदा होने वाली सभी फसलो का पता कीजिए , और अलग अलग वर्ग में इनकी सूची बनाइये।


    Kirshi विचार



    कृषि की परिभाषा दीजिए
    आप अपने गांव के आस पास के लोगों को अलग अलग समय में अलग अलग फसले बोते और काटते देखते हैं। पता कीजिए कि बोने और काटने के समय के आधार पर हमारे यहाँ कितनी फसले होती हैं। 

    No comments:

    Post a Comment

    Popular Posts

    Ads section

    Labels

    animals (2) BEAUTY (1) Facebook (1) Food (1) GADGET (1) ideas businees (1) insurance (2) Life (1) LIFE STALE (10) Loans (1) MOBILE GADGET (2) Music (1) NEWS (7) Play quiz (1) Seo (3) shayari (1) STORIES (4) Technology (5) Whatsapp (1) Youtube (3)

    About Me

    My photo
    مرکزی طالب علم ایک کالج کا